ayurveda, pain oil, herbal, hair care

करेले के फायदे

  • करेले में फास्फोरस पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। यह कफ, कब्ज और पाचन संबंधी समस्याओं को दूर करता है। इसके सेवन से भोजन का पाचन ठीक तरह से होता है, और भूख भी खुलकर लगती है।
  • अस्थमा की शि‍कायत होने पर करेला बेहद फायदेमंद होता है। दमा रोग में करेले की बगैर मसाले सब्जी खाने से लाभ मिलता है।
  • पेट में गैस बनने और अपच होने पर करेले के रस का सेवन करना अच्छा होता है, जिससे लंबे समय के लिए यह बीमारी दूर हो जाती है।
  • करेले का जूस पीने से लीवर मजबूत होता है और लीवर की सभी समस्याएं खत्म हो जाती है। प्रतिदिन इसके सेवन से एक सप्ताह में परिणाम प्राप्त होने लगते हैं। इससे पीलिया में भी लाभ मिलता है।
  • करेले की पत्त‍ियों या फल को पानी में उबालकर इसका सेवन करने से, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, और किसी भी प्रकार का संक्रमण ठीक हो जाता है।
  • खून साफ करने के लिए भी करेला अमृत के समान है। मधुमेह में यह बेहद असरकारक माना जाता है। मधुमेह में एक चौथाई कप करेले का रस, उतने ही गाजर के रस के साथ पीने पर लाभ मिलता है।
  • ह्दय संबंधी समस्याओं के लिए करेला एक बेहतर इलाज है। यह हानिकारक वसा को ह्दय की धमनियों में जमने नहीं देता जिससे रक्तसंचार व्यवस्थित बना रहता है, और हार्ट अटैक की संभावना नहीं होती।
  • करेला सबसे ज्यादा मधुमेह के रोगों के लिए फायदेमंद होता हैं इसके किसी भी रूप में सेवन से रोगियों को राहत मिलती हैं | लेकिन सामान्यतः करेले को सुखाकर उसका पावडर भिन्न- भिन्न रूप में खाने को दिया जाता हैं | सुबह जल्दी उठकर चुटकी भर करेले के पाउडर को एक चम्मच शहद के साथ खाने से बॉडी शुगर कण्ट्रोल होती हैं | करेले(Karela) से बॉडी मेटाबोलिज्म कंट्रोल रहता है।
  • करेले में विटामिन A होता हैं इसलिए यह आँखों के लिए बहुत लाभकारी हैं | इसके इस्तेमाल से रतौंधी जैसे रोग ठीक होते हैं ऐसा रोग जिसमे रोगी को दिन ढलते ही बहुत कम दीखता हैं | करेले को काली मिर्च के साथ लेने से यह आँखों के लिए ज्यादा फायदेमंद होता हैं |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Get 10% off on online orders
× How can I help you?